Sakshi Maharaj responsible for Unnao dead bodies incident: Azam khan

LUCKNOW(TNN): Uttar Pradesh urban development minister Mohammad Azam khan alleged that Sakshi Maharaj of the BJP might be responsible for the Unnao dead bodies incident.Stirring up yet another controversy, Samajwadi Party functionary Azam Khan on Thursday claimed that Bharatiya Janata Party MP Sakshi Maharaj was responsible for the 104 bodies found in a channel of the Ganga river in Unnao district.

Sakshi Maharaj responsible for Unnao dead bodies incident: Azam khan

He said that Sakshi Maharaj was the first witness who informed about the dead bodies.During the press conference, Azam also alleged that Sakhshi Maharaj had managed the entire show at Unnao.

However, Kanpur Inspector General of Police Ashutosh Pandey said the bodies belonged to families who could not afford a decent cremation as per Hindu traditions and dumped them in the river.

The district administration used excavators to fish out the decomposed bodies from the river bed and the catchment areas, a step protested by residents and the Bharatiya Janata Party.

In a related development, six more bodies were recovered from the Betwa river in Jhansi. The bodies were found floating near the Nautaghat Jhansi on the Uttar Pradesh-Madhya Pradesh border.

साक्षी महाराज ने ट्रक में भरकर फेंकवाए 104 शव: आजम खान
लखनऊ: उत्तर प्रदेश के नगर विकास मंत्री और समाजवादी पार्टी (एसपी) के नेता आजम खान ने गुरुवार को कहा कि दो दिन पहले मिले 104 शव भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के उन्नाव से सांसद साक्षी महाराज ने ही गंगा नदी में फेंकवाया है। आजम ने केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी पर भी निशाना साधा है। आजम खान ने मीडियाकर्मियों से बातचीत में कहा, ‘गंगा नदी को स्वच्छ बनाने का अभियान छेड़ने वाले ही गंगा को गंदा करने में जुटे हैं। उन्नाव में मंगलवार को मिलने वाले 104 शव सांसद साक्षी महाराज ने ट्रक में भरकर फेंकवाया है। इनकी मंशा है कि प्रदेश में सांप्रदायिक तनाव बढ़े, ध्रुवीकरण हो और एसपी सरकार बदनाम हो।’

उन्होंने कहा, ‘साक्षी महाराज को यह बताना होगा कि इतने शव उन्हें कहां से मिले और इसे जुटाने में किन लोगों का सहयोग लिया गया।’ आजम खान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सवाल किया, ‘क्या मोदी जी यह बताएंगे कि वह राजनीति में स्वच्छता के लिए भी काम करेंगे? क्या वह ऐसे कृत्य करने वाले अपने सांसद और मंत्रियों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे?’

यूपी के कैबिनेट मंत्री ने केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी पर निशाना साधते हुए कहा कि नकवी में जरा भी नैतिकता होती तो वह अब तक पद छोड़ चुके होते। आजम खान ने नकवी को लेकर मोदी से यह भी सवाल किया, ‘क्या जिस मंत्री को क्रिमिनल ऐक्ट में सजा मिली है, वह केंद्र के कैबिनेट में रहने योग्य है? क्या उससे इस्तीफा नहीं मांगा जाना चाहिए?’

आजम ने कहा, ‘केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी में जरा भी नैतिकता है तो वह रामपुर आने से पहले इस्तीफा दे दें।’ उल्लेखनीय है कि केंद्रीय मंत्री नकवी को रामपुर की एक अदालत ने बुधवार को आचार संहिता के उल्लंघन के एक मामले में एक साल कैद की सजा सुनाई थी। बाद में उन्हें जमानत भी मिल गई।

  • See more at: http://hindi.kohram.in/national/azam-khan-holds-sakshi-maharaj-responsible-for-unnao-incident/#sthash.jqbAcKlT.dpuf